ads
आज है: August 18, 2018

बैडमिंटन

पिछला परिवर्तन-Wednesday, 31 Jan 2018 05:17:30 AM

सिंधू और साइना जीते, चोट के बावजूद प्रणय खेलने को बाध्य

नई दिल्ली। इंडिया की स्टार खिलाडिय़ों पीवी सिंधू और साइना नेहवाल ने आसान जीत के साथ इंडिया ओपन सुपर 500 टूर्नामेंट के दूसरे दौर में जगह बनाई लेकिन एच एस प्रणय को पैर में समस्या (कार्न) के बावजूद कोर्ट पर उतरना पड़ा और वह पहले दौर में ही हार गए। साइना को डेनमार्क की सोफी डहल को 21-15 21-9 से हराने में अधिक पसीना नहीं बहाना पड़ा, जबकि सिंधू ने भी एकतरफा मुकाबले में डेनमार्क की ही नतालिया कोच रोड को 21-10 21-13 से हराया।
श्रेयांश जायसवाल के खिलाफ मैच के दौरान प्रणय पूरी तरह से असहज दिखे और उन्हें 4-21 6-21 से हार का सामना करना पड़ा। बीडब्ल्यूएफ के नये नियमों के तहत शीर्ष 15 एकल खिलाडिय़ों के लिए साल में होने वाले 12 सुपर 1000, सुपर 750 और सुपर 500 टूर्नामेंट में खेलना अनिवार्य है और प्रणय ने कहा कि मलेशिया और इंडोनेशिया में पहले दो सुपर 500 टूर्नामेंट में नहीं खेलने की वजह से उनके पास यहां उतरने के अलावा कोई विकल्प नहीं था।
प्रणय ने कहा कि मुझे कम से कम 12 टूर्नामेंट में खेलने के नए बीएफडब्ल्यू नियम के कारण इंडिया ओपन में खेलना पड़ा। मैं मैच से हट भी नहीं सकता था क्योंकि मेरा प्रतिद्वंद्वी मेरे ही देश का खिलाड़ी था और बीडब्ल्यूएफ के नए नियमों के अनुसार अगर मैं अपने देश के खिलाड़ी के खिलाफ मैच से हटता को उसे और मुझे दोनों को ही अंक नहीं मिलते। उन्होंने कहा कि मेरे पैर में दो-तीन जगह कार्न हो गए थे और मैं डाक्टर के पास गया लेकिन शायद इन्हें ठीक से नहीं हटाया गया। अब मुझे दोबारा इन्हें हटाना होगा जिसके कारण दो हफते तक बाहर रहना पड़ सकता है। मुझे आल इंग्लैंड चैंपियनशिप के लिए वापसी की उम्मीद है।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो...
  2. नेतन्याहू ने पत्नी के साथ किया ताजम...
  3. उम्‍मीद है, मेरे आंदोलन से अब कोई '...