ads
आज है: September 25, 2018

बैडमिंटन

पिछला परिवर्तन-Saturday, 31 Mar 2018 05:27:00 AM

सभी पांच स्पर्धाओं में पदक जीत सकते हैं हम : कश्यप

नई दिल्ली। मौजूदा पुरुष एकल चैम्पियन पारूपल्ली कश्यप का मानना है कि भारतीय बैडमिंटन टीम आगामी राष्ट्रमंडल खेलों में हर वर्ग में पदक जीतकर अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर सकती है। चार साल पहले कश्यप ने 32 साल पुराना रिकार्ड तोड़ते हुए राष्ट्रमंडल खेलों में पुरुष एकल स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता था। उनसे पहले प्रकाश पादुकोण (1978 ) और सैयद मोदी (1982) ने यह कारनामा किया था। भारत ने ग्लासगो में एक स्वर्ण, एक रजत और दो कांस्य जीते थे। इसके बाद फिटनेस समस्याओं से जूझते हुए कश्यप की रैंकिंग गिरी और वह गोल्डकोस्ट खेलों में जगह नहीं बना सके। दुनिया के पूर्व छठे नंबर के खिलाड़ी कश्यप ने कहा, मैं फिर खेलना चाहता था लेकिन मैं भी चयनकर्ता होता तो खुद को टीम में नहीं रखता। प्रणय और श्रीकांत बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं।
उन्होंने कहा,हमारे पास अच्छी टीम है और अपनी क्षमता के अनुरूप खेल सके तो सभी पांच वर्गों में पदक जीत सकते हैं। चार पदक तो पक्के हैं। कश्यप ने कहा, हमें इस बार शीर्ष वरीयता मिली है। अब देखना यह है कि हम सेमीफाइनल में किससे खेलते हैं। इंग्लैंड के पास पुरुषों की और मिश्रित युगल में अच्छी टीम है लेकिन एच एस प्रणय और के श्रीकांत राजीव ओसेफ को हरा सकते हैं। ग्लासगो खेलों से बाहर रही साइना नेहवाल और ओलंपिक रजत पदक विजेता पी वी सिंधू महिला एकल में स्वर्ण की दावेदार है। कश्यप ने कहा कि फाइनल दोनों के बीच होना चाहिये। उन्होंने कहा, महिला एकल में साइना और सिंधू को फाइनल में पहुंचना चाहिये। मलेशिया के खिलाड़ी अच्छे हैं लेकिन साइना और सिंधू को खतरा नहीं होगा।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो...
  2. नेतन्याहू ने पत्नी के साथ किया ताजम...
  3. उम्‍मीद है, मेरे आंदोलन से अब कोई '...