ads
आज है: December 12, 2017
पिछला परिवर्तन-Wednesday, 06 Dec 2017 04:58:48 AM

डिसिल्वा का शतक, श्रीलंका का संघर्ष जारी

नई दिल्ली। धनंजय डिसिल्वा के जुझारू शतक की बदौलत श्रीलंका ने भारत के खिलाफ तीसरा और अंतिम टेस्ट ड्रॉ कराने के लिए अपना संघर्ष जारी रखते हुए बुधवार को यहां पांचवें और अंतिम दिन चाय तक पांच विकेट पर 230 रन बनाए। धनंजय डिसिल्वा का यह टेस्ट कॅरियर का तीसरा शतक है। इससे पहले उन्होंने ऑस्ट्रेलिया और जिम्बाब्वे के खिलाफ भी शतक लगाए हैं। डिसिल्वा ने रिटायर हर्ट होने से पहले 219 गेंदों में 15 चौकों और एक छक्के की मदद से 119 रन की पारी खेलने के अलावा कप्तान दिनेश चांदीमल (36) के साथ पांचवें विकेट के लिए 112 रन भी जोड़े। रोशन सिल्वा (नाबाद 38) और निरोशन डिकवेला (नाबाद 15) क्रीज पर डटे हुए थे। भारत की ओर से रवीन्द्र जडेजा ने 59 रन देकर तीन विकेट हासिल किए।
श्रीलंका ने दूसरे सत्र में बेहतर बल्लेबाजी करते हुए 34 ओवर में 107 रन जोडक़र एक विकेट गंवाया। श्रीलंका को जीत के लिए 180 जबकि भारत को पांच विकेट की दरकार है। श्रीलंका ने सुबह के सत्र में 31 ओवर में 88 रन जोडक़र एकमात्र विकेट एंजेलो मैथ्यूज (01) का गंवाया। मैथ्यूज हालांकि दुर्भाग्यशाली रहे क्योंकि जडेजा की जिस गेंद पर पवेलियन लौटे वह नोबॉल थी। जडेजा ने 24 रन के स्कोर पर चांदीमल को भी बोल्ड कर दिया था, लेकिन यह नोबॉल हो गई।
श्रीलंका ने दिन की शुरूआत तीन विकेट पर 31 रन से की और जल्द ही मंगलवार के नाबाद बल्लेबाज और पहली पारी के शतकवीर मैथ्यूज का विकेट गंवा दिया। दिन के छठे ओवर में गेंदबाजों के पैरों के निशान पर गिरने के बाद जडेजा की गेंद ने तेजी से स्पिन और उछाल के साथ मैथ्यूज के बल्ले का किनारा लिया और पहली स्लिप में अजिंक्य रहाणे ने कैच लपकने में कोई गलती नहीं की। बाद में हालांकि टीवी रीप्ले में दिखा कि जडेजा का पैर क्रीज से बाहर था और यह नोबाल थी लेकिन मैदानी अंपायर जोएल विल्सन इसे देख नहीं पाए।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. CM योगी ने किया ताज महल का दीदार, प...
  2. आगरा पहुंचे योगी आदित्यनाथ करेंगे त...
  3. नेताजी से फोन पर बात हुई, मुझे आशीर...