ads
आज है: December 12, 2017

स्वास्थ्य

पिछला परिवर्तन-Friday, 25 Aug 2017 01:26:39 AM

दही, स्वाद भी और सेहत भी

क्या आपको पता है कि दही में दूध की तुलना में अधिक प्रोटीन और विटामिन्स पाए जाते हैं? और, दूध की तुलना में दही पेट के लिए ज्यादा हल्का और फायदेमंद होता है. इसके अलावा दही में बहुत-से ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जिनकी हमारे शरीर को आवश्यकता होती है. दही के सेहत से संबंधित गुण दही में बहुत-से पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं. इस बारे में पूछे जाने पर वेदीक्योर वेलनेस हॉस्पिटल, मुंबई की डायटीशियन और न्यूट्रिशनिस्ट डॉ आम्रपाली पाटिल बताती हैं, दही प्रोटीन का प्रमुख स्रोत है. दही में मौजूद प्रोटीन दूध की तुलना में तीन गुना अधिक हल्का और पचने में आसान होता है।
जिन लोगों को दूध में मौजूद लैक्टोज से एलर्जी होती है, उन्हें दही का सेवन करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि दूध से दही बनने की प्रक्रिया के दौरान लैक्टोज लैक्टिक एसिड में बदल जाता है और यह आसानी से पच जाता है. दही में कैल्शियम और रिवोफ्लैविन भी पाया जाता है, जो हड्डियों को ऑस्टियोपरोसिस जैसी बीमारी में सुरक्षा प्रदान करता है. ऑस्टियोपरोसिस से पीड़ित लोगों को दिन में एक बार दही का सेवन अवश्य करना चाहिए. दही में अनेक प्रकार के रोगोपचारक गुण भी मौजूद होते हैं. इस बारे में बताते हुए आम्रपाली कहती हैं, पेचिश, दस्त व कब्ज जैसी पेट की बीमारियों से पीड़ित लोगों को दही का सेवन करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि दही में मौजूद लैक्टोबैकिली नामक बैक्टीरिया इन बीमारियों में बेहद फायदेमंद होता है. दही कोलन (बड़ी आंत का मुख्य और सबसे लंबा भाग) को स्वस्थ रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, क्योंकि दही में मौजूद बैक्टीरिया आंत को स्वस्थ रखने से साथ ही कोलन कैंसर होने का ख़तरा कम करते हैं. इसके अलावा बहुत-सी त्वचा संबंधी बीमारियों, जैसे-एक्जिमा, पोरियोसिस होने पर छाछ का सेवन करने से की सलाह दी जाती है, क्योंकि इस तरह की त्वचा संबंधी बीमारी होने पर छाछ का सेवन करने से पेट को ठंडक मिलती है, जिससे खुजली, लाल दानें इत्यादि से आराम मिलता है।
अनिद्रा से पीड़ित लोगों को सोने से पहले स्कैल्प पर दही से मालिश करने व नियमित रूप से दही का सेवन से बहुत फायदा मिलता है. दही में गुड़ मिलाकर खाने से कामोत्तेजना बढ़ती है. वजन कम करने की इच्छा रखनेवालों को लो फैट दही का सेवन करना चाहिए, इसमें कलौरी और वसा की मात्रा सामान्य दही से कम होती है. दही के सुंदरता से संबंधित गुण दही में जिंक, कैल्शियम, विटामिन बी 1, विटामिन बी 2, बी 6 और यीस्ट पाए जाते हैं. जिंक में ऐंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जो मुहांसों के दाग कम करने में मदद करते हैं. कैल्शियम में ऐंटी-ऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जो कोशिकाओं के पुनर्निर्माण में मदद करते हैं. इसके अलावा दही में बहुत-से हेल्दी एंजाइम्स पाए जाते हैं, जो त्वचा को नमी प्रदान करने, रोमछिद्रों का आकार कम करने और त्वचा को स्वस्थ और चमकीला बनाने में मदद करते हैं. दही बालों के लिए भी बेहद फायदेमंद है. यह बालों को साफ करने के साथ साथ ही कंडीशन करने में भी मदद करता है. यह बेजान बालों को नई चमक देता है. क्या कहते हैं अध्ययन मोटापा घटाने में सहायक: इंटरनैशनल जरनल ऑफ ओबेसटी में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, जिन लोगों ने मोटापा कम करने के लिए दिन में तीन बार वसा रहित दही (लो फैट दही) का सेवन किया, उन्होंने दही का सेवन नहीं करनेवालों की तुलना में 22 फीसदी अधिक वजन और 61 फीसदी ज्यादा बॉडी फैट कम किया. उच्च रक्तचाप घटाने में कारगर: स्पेन में 5, 000 लोगों पर दो वर्ष तक किए गए अध्ययन के अनुसार, जो लोग दिन में दो से तीन बार दही का सेवन करते हैं, उन्हें दही का सेवन नहीं करनेवालों की तुलना में उच्च रक्तचाप होने का ख़तरा 50 फीसदी तक कम होता है।

Comments          Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. CM योगी ने किया ताज महल का दीदार, प...
  2. आगरा पहुंचे योगी आदित्यनाथ करेंगे त...
  3. नेताजी से फोन पर बात हुई, मुझे आशीर...