ads
आज है: October 21, 2018

अंतरराष्ट्रीय

पिछला परिवर्तन-Wednesday, 10 Jan 2018 23:11:27 PM

ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने आलोचनाओं के बीच कैबिनेट में किया फेरबदल

United States

लंदन। ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेमा मे ने अपने सरकार के मंत्रियों की टीम में फेरबदल करने के बाद मंगलवार रात को पहला बयान जारी किया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, अपने सरकारी आवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट पर मे ने कहा, यह सरकार भविष्य के लिए उपयुक्त देश का निर्माण करेगी। यह एक ऐसी सरकार है जो वास्तव में हर किसी के हित में और मजबूत अर्थव्यवस्था और निष्पक्ष समाज के निर्माण के लिए काम करेगी। उन्होंने कहा, यह फेरबदल हमें सरकार में नई प्रतिभाओं को शामिल कर इसी लक्ष्य को प्राप्त करने में और आवास, स्वास्थ्य और सामाजिक देखभाल जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में काम करने में मदद करेगा। साथ ही यह सुनिश्चित करेगा कि सरकार भी वैसी ही हो जैसे देश की वह सेवा कर रही है।
मे ने कहा कि यह फेरबदल प्रतिभावान मंत्रियों को आगे आकर पूरे ब्रिटेन के लोगों के जीवन को बेहतरीन बनाने में अपना योगदान देने का मौका देगा। मे को कैबिनेट में फेरबदल के पहले दिन आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। आलोचकों में उनकी कंजर्वेटिव पार्टी के नेता भी शामिल रहे, जिनके अनुसार यह फेरबदल प्रभावशाली और उचित नहीं है। उनकी टीम की अग्रिम पंक्ति में सबसे बड़ा बदलाव मात्र यह रहा कि शिक्षा सचिव जस्टिन ग्रीनिंग ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया। मे ने कैबिनेट फेरबदल के दूसरे दिन नए लोगों को अपनी टीम में शामिल करने के लिए चार मंत्रियों को निकाल दिया। कैबिनेट छोड़ने वालों में शिक्षा मंत्री रॉबर्ट गुडविल और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मंत्री मार्क गार्नियर रहे। परिवहन मंत्री जॉन हेज और स्वास्थ्य मंत्री फिलिप डन दोनों ने भी सरकार से इस्तीफा दे दिया। कंजर्वेटिव पार्टी के सांसद फिलिप डेविस ने शिकायत जताई कि मे के कैबिनेट में फेरबदल ने इस जायज चिंता को बढ़ा दिया है कि महिलाओं या अल्पसंख्यक जाति के सांसदों के लिए जगह बनाने के लिए श्वेत, पुरुष मंत्री निकाल बाहर किए जा सकते हैं क्योंकि वे श्वेत हैं और पुरुष हैं।
डेविस ने कहा, यह तो समय ही बताएगा कि इन लोगों को अपनी प्रतिभा के बल पर पद मिला है या इन्हें किसी खास वर्ग का होने के कारण पद दिया गया है। निश्चित तौर पर ऐसे लोगों को पदोन्नत करने से किसी का भला नहीं होने वाला, जिन्हें केवल अपने लिंग या नस्ल के कारण पदोन्नति मिली है। उन्होंने कहा, समय ही बताएगा कि ये पद प्रतिभा पर दिए गए हैं या नहीं लेकिन कोई भी स्वाभिमानी कंजर्वेटिव यही कहेगा कि सभी पद प्रतिभा के आधार पर दिए जाने चाहिए और हमें लोगों के लिंग, नस्ल या धर्म के आधार पर यह तय नहीं करना चाहिए। मे ने आखिरकार मंगलवार रात को कैबिनेट में फेरबदल पूरा करते हुए अपनी सरकार के आठ वर्तमान सदस्यों को नए पद दिए। गृह सचिव अंबर रड को भी मे ने महिला एवं समानता मंत्री के रूप में नियुक्त किया।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो...
  2. नेतन्याहू ने पत्नी के साथ किया ताजम...
  3. उम्‍मीद है, मेरे आंदोलन से अब कोई '...