ads
आज है: December 12, 2017

बाज़ार

पिछला परिवर्तन-Monday, 04 Dec 2017 01:20:46 AM

अगले साल दहाई अंकों की ऋण वृद्धि संभव : HDFC

नई दिल्ली। निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि कॉरपोरेट मांग बढ़ने के संकेत तथा अन्य ऋण प्रदाताओं के सुदृढ़ होने के कारण अगले साल बैंकिंग क्षेत्र के ऋण में दहाई अंकों में वृद्धि की संभावना है। बैंक के उप प्रबंध निदेशक परेश सुक्तांकर ने कहा, अभी तक कर्ज की मांग कार्यगत पूंजी और अल्पावधि ऋण तथा आंशिक तौर पर कंपनियों के मौजूदा संयंत्रों के विस्तार से संचालित थी लेकिन कॉरपोरेट की ऋण मांग को बढ़ावा देने की दृष्टि से महत्वपूर्ण निजी क्षेत्र में निवेश की कमी थी।
उन्होंने आगे कहा, कार्यगत पूंजी के मामले में अच्छी खबर है कि अब तक दबी पड़ी वस्तुओं की कीमतें अपने निचले स्तर से ऊपर उठी हैं। जैसे ही मात्रा बढ़ेगी, पूंजी की मांग भी बढ़ जाएगी। उन्होंने कहा, लेकिन जब तक पूंजीगत खर्च संबंधी मांग में तेजी रहेगी, आप रुख में बदलाव की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। बैंकिंग क्षेत्र के लिए ऋण वृद्धि के इकाई अंकों में रहते हुए काफी समय हो गया, आप जब अगले साल में जाएंगे तब दहाई अंकों की वृद्धि दर संभव है, मैं ऐसा सोचता हूं यदि इनमें से कुछ मुद्दे हल हो गए।
अभी कुछ महीने पहले तक ऋण मांग का अधिक भाग वाणिज्यिक पत्र, बांड, विदेशी मुद्रा ऋण आदि के जरिये पूरा किया जा रहा था, जबकि ब्याज दर के कारण बैंक ऋण पर निर्भरता कम थी। अगली कुछ तिमाहियों में मांग बढ़ने की उम्मीद जताते हुए सुक्तांकर ने कहा, मेरा अब भी मानना है कि ये सारे मुद्दे खत्म हो जाएंगे। मैं ऐसा ही कहने वाला हूं कि आने वाले समय में पूंजीगत खर्च की भारी मांग बढ़ेगी और कॉरपोरेट ऋण में वृद्धि अब बैंकों की तरफ जाएगी।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. CM योगी ने किया ताज महल का दीदार, प...
  2. आगरा पहुंचे योगी आदित्यनाथ करेंगे त...
  3. नेताजी से फोन पर बात हुई, मुझे आशीर...