ads
आज है: December 15, 2018

बाज़ार

पिछला परिवर्तन-Tuesday, 13 Mar 2018 23:30:31 PM

RBI ने समाप्त की लेटर ऑफ अंडरस्टैंडिंग सुविधा

मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) फर्जीवाड़े के मद्देनजर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बैंकों द्वारा लेटर ऑफ अंडरस्टैंडिंग (एलओयू) या लेटर ऑफ कंफर्ट जारी करने पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगा दिया है। हीरा कारोबारी नीरव मोदी ने करीब 13 हजार करोड़ रुपये का पूरा घोटाला फर्जीवाड़ा कर बनाये गये पीएनबी के एलओयू के आधार पर कर डाला। वह लगातार एलओयू बनवाकर उनके आधार विदेशों में ऋण लेता रहा।
आयातकों को एलओयू के आधार पर विदेशों में ऋण जारी किया जाता था और ऋण नहीं चुकाने की स्थिति में देनदारी एलओयू जारी करने वाले बैंक की बन जाती है। आरबीआई ने आज जारी अधिसूचना में कहा, मौजूदा दिशा-निर्देशों की समीक्षा के बाद भारत में आयात के लिए ऋण के लिए बैंकों द्वारा एलओयू जारी करने की व्यवस्था तत्काल प्रभाव से समाप्त करने का फैसला किया गया है। उसने स्पष्ट किया है कि लेटर ऑफ क्रेडिट या बैंक गारंटी के जरिये गारंटी और सह-स्वीकार्यता के आधार पर आयात के लिए ऋण देने की व्यवस्था बनी रहेगी।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो...
  2. नेतन्याहू ने पत्नी के साथ किया ताजम...
  3. उम्‍मीद है, मेरे आंदोलन से अब कोई '...