ads
आज है: January 19, 2021

प्रौद्योगिकी

पिछला परिवर्तन-Wednesday, 26 Apr 2017 01:07:08 AM

ई-वॉलेट्स से बेहतर है भारत क्यूआर कोड एप्प, आजमा कर देखें

बेहतर है भारत क्यूआर कोड एप्प
भारत सरकार कैशलेस इकोनॉमी या डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए जोर-शोर से काम कर रही है। और हाल ही में सरकार ने भारत इंटरफेस फॉर मनी (भीम) एप्प भी लॉन्च किया था, जिसे यूजर्स ने काफी इस्तेमाल किया। पर अब इस राह को और सुगम बनाने के लिए एक नया पेमेंट एप्प लॉन्च किया गया है। भारत क्यूआर कोड नाम के इस टूल के उपयोग करने पर आप बिना स्वाइप मशीन के कार्ड से पेमेंट कर सकेंगे। भारत क्यूआर कोड एक सामान्य क्यूआर कोड की तरह है, जिसे देश की चार प्रमुख कार्ड पेमेंट कंपनियां, मास्टर कार्ड वीजा, नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया का रुपे कार्ड तथा अमेरिकन एक्सप्रेस ने मिलकर भारतीय रिजर्व बैंक के निर्देशों के अनुसार विकसित किया है। इस नए भारत क्यूआर कोड नामक एप्प के द्वारा डिजिटल भुगतान किया जा सकेगा जिसके लिए अपने स्मार्टफोन में इसे ओपन कर मर्चेंट्स का क्यूआर कोड स्कैन करना होगा। इसके बाद आप पेमेंट कर सकते हैं। इसके साथ ही सभी बैंकों को अपने कस्टमर्स के डेबिट कार्ड डिटेल्स को इसके साथ इंटीग्रेट करना होगा जिससे यूजर के अकाउंट की सीमित लिमिट को बढ़ाया जाएगा। क्यूआर कोड डेबिट कार्ड के लिए कॉमन इंटरफेस का काम करेगा।
इन कार्ड्स में वीजा, मास्टर कार्ड और रुपे शामिल होंगे। इसके अलावा आधार कार्ड के जरिए किए जाने वाले पेमेंट्स और ट्रांस्फर भी क्यूआर कोड के जरिए किए जा सकेंगे। भारत क्यूआर कोड एप्प के जरिए यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) प्लेटफॉर्म से भी पेमेंट ऐक्सेप्ट किए जा सकेंगे। हालांकि बैंकर्स का कहना है कि शुरुआती दौर में भारत क्यूआर से वीजा, मास्टर कार्ड और रुपे को ही सपोर्ट करेंगे। क्या है भारत क्यूआर कोड की खासियत? अभी भारत में ज्यादातर बैंक अपने एप्प के जरिए एमवीजा क्यूआर कोड की सेवा देते हैं जबकि आरबीएल बैंक ऑनगो एप्प के जरिए मास्टरपास क्यूआर कोड की सेवा देते हैं। अगर मर्चेंट के पास एमवीजा क्यूआर कोड है तो आपके बैंकिंग एप्प में यह सुविधा होनी चाहिए। अगर आपके बैंकिंग एप्प में मास्टरपास क्यूआर कोड की सुविधा है और मर्चेंट के पास एमवीजा क्यूआर की सुविधा है तो आप पेमेंट नहीं कर सकते थे, लेकिन अब यह संभव है।
भारत क्यूआर कोड एप्प कई मायने में पेटीएम और दूसरे ई-वॉलेट्स से बेहतर है। इसकी खास बात यह है कि इसमें पेटीएम, मोबीक्विक, जियो मनी, फ्रीचार्ज आदि ई-वॉलेट कंपनियों के क्यूआर कोड को शामिल नहीं किया गया है। कौन कर सकते हैं भारत क्यूआर कोड इस्तेमाल? फिलहाल भारत क्यूआर कोड सुविधा का उपयोग देश के 15 बैंकों के ग्राहक ही कर पाएंगे। मास्टरकार्ड, वीजा तथा रुपे कार्ड धारकों को भी भारत क्यूआर कोड सुविधा का फायदा मिलेगा और जल्द ही इस सेवा के दायरे में अमेरिकन एक्सप्रेस भी आ सकता है। भारत क्यूआर कोड एप्प को इस्तेमाल करने वाले 15 बैंकों की सूची इस प्रकार से हैः- एक्सिस बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया, सिटी यूनियन बैंक, डीसीबी बैंक, करुर वैश्य बैंक, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, आईडीबीआई बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, आरबीएल बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, विजया बैंक और यस बैंक। कैसे करें भारत क्यूआर कोड को इस्तेमाल? बतौर ग्राहक, भारत क्यूआर कोड का उपयोग करने के लिए आपके पास ऊपर बताए गई 15 बैंकों की सूची में से किसी एक में खाता होना जरूरी है। इसके साथ ही आपके पास स्मार्टफोन भी होना चाहिए जिस पर आपको संबंधित बैंक का भारत क्यूआर कोड डाउनलोड करना होगा। आपके पास संबंधित बैंक का डेबिट, क्रेडिट या प्रीपेड कार्ड होना भी अनिवार्य है। यह क्यूआर कोड एप्प एंड्रॉयड, आईओएस तथा विंडोज मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करेगा।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. यमुना एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हाद...
  2. PM मोदी बोले आगरा की पहचान में जुड़...
  3. सेनाओं को मिली छूट से पाकिस्तान के ...