ads
आज है: January 19, 2021

प्रौद्योगिकी

पिछला परिवर्तन-Wednesday, 14 Jun 2017 00:40:52 AM

सेटिंग्स बदलेंगे तो फोन में न एप क्रैश होंगे और न बैटरी फुंकेगी

ऐसे बदले सेटिंग्स
एंड्रॉयड फोन के उपभोक्ताओं को एप क्रैश होने, बैटरी जल्दी डिस्चार्ज हो जाने या फिर फोन बार-बार हैंग होने जैसी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। सेटिंग में मामूली बदलाव कर इनसे छुटकारा पाना मुमकिन है।
एप क्रैश हो जाना:- समस्या:- कई फोन पर यह मैसेज आता है कि कोई एप काम नहीं कर रहा है। फोन किसी भी ब्रांड का हो, कुछ दिन पुराना होने के बाद सभी फोन में यह दिक्कत आने लगती है।
1.समाधान:- इस समस्या के समाधान के लिए एप के कैशे को साफ करना होगा। इसके लिए फोन की सेंटिंग्स में जाएं। यहां एप्लीकेशन मैनेजर का विकल्प चुनें। इसके बाद ऑल टैब में जाएं और जिस भी एप में दिक्कत है, उस पर क्लिक करें। इसके बाद बारी-बारी से फोर्स स्टॉप, क्लियर कैशे और क्लियर डाटा के विकल्प पर क्लिक कर दें। फोन को रीस्टार्ट करने पर वह एप क्रैश नहीं होगा। दरअसल, उस एप में जो जानकारी स्टोर है, वह डिलीट हो जाती है और एप नए सिरे से इंस्टॉल किए गए एप की तरह काम करता है।
2. मेमोरी कार्ड कनेक्ट न होना समस्या- कई लोगों के सामने यह समस्या आती है कि उनके फोन में मेमोरी कार्ड का आइकन दिखाई नहीं देता या फिर फोन इसे रीड नहीं कर पाता है। समाधान- मेमोरी कार्ड को फॉर्मेट कर इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। अगर कार्ड में कुछ जरूरी डाटा मौजूद है तो उसे कंप्यूटर से जोड़कर सेव कर लें। इसके बाद फोन में मेमोरी कार्ड लगाएं। फिर सेटिंग्स के विकल्प में जाएं। यहां दिए गए स्टोरेज के विकल्प को चुनें। फिर फॉर्मेट एसडी कार्ड पर क्लिक कर दें। इसके बाद दोबारा रीस्टार्ट करने पर फोन कार्ड को रीड कर लेगा।
3. बैटरी जल्दी डिस्चार्ज होना समस्या- फोन की बैटरी जल्द डिस्चार्ज हो जाती है। इसके लिए बैकग्राउंड में चल रहे एप्लीकेशन और कनेक्टिविटी फीचर जिम्मेदार हो सकते हैं। समाधान- स्क्रीन सेवर या कनेक्टिविटी फीचर जैसे ब्लूटूथ, वाई-फाई और एनएफसी जरूरत न होने पर बंद कर दें। ये फीचर ऑन होंगे तो बैटरी अधिक खर्च होगी। फोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए चार्जिंग के समय फोन का डाटा बंद रखें। इसके अलावा बैकग्राउंड में चलने वाले फीचर को हटा सकते हैं। पहले यह जान लें कि बैकग्राउंड में चलने वाले फीचर कितने समय तक सक्रिय रहते हैं। इसके लिए सेटिंग्स के अबाउट डिवाइस विकल्प में दिए गए बिल्ड वर्जन के विकल्प पर तब तक टैप करें, जब तक यह मैसेज न आ जाए कि आप अब डेवलपर बन गए हैं। इसके बाद फिर सेटिंग्स में जाएं। यहां डेवलपर का विकल्प दिखेगा। इस पर क्लिक करने के बाद प्रोसेस स्टेट्स के विकल्प पर जाकर यह पता कर सकते हैं कि फोन में कौन से फीचर अधिक देर तक सक्रिय रहते हैं। गैर उपयोगी फीचर को बंद कर दें।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. यमुना एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हाद...
  2. PM मोदी बोले आगरा की पहचान में जुड़...
  3. सेनाओं को मिली छूट से पाकिस्तान के ...