ads
आज है: May 21, 2018

प्रौद्योगिकी

पिछला परिवर्तन-Monday, 11 Sep 2017 04:09:58 AM

स्मार्ट फोन को हैंग होने से बचाने के अपनाएं ये टिप्स

स्मार्ट फोन को हैंग होने से बचाने के टिप्स
क्या आप भी अपने स्मार्टफोन के हैंग होने से या फिर गर्म हो जाने से परेशान हैं? अगर हां, तो ये खबर आपके लिए फायदे की है। हम आपको बताने जा रहे हैं कैसे आप अपने स्मार्टफोन को हैंग होने से या गर्म होने से बचा सकते हैं। जानकारी के अभाव में फोन ठीक करने वाले अक्सर स्मार्टफोन यूजर को झांसे में रखने की कोशिश करते हैं। लेकिन अगर आपके पास ये पांच जानकारी हो तो ना ही आपका फोन हैंग होगा, ना ही गर्म होगा और ना ही आप मोबाइल टेक्नीशियन के झांसे में आएंगे। रैम को करें क्लियर स्मार्टफोन के इस दौर में रैम की भूमिका बढ़ गई है। अक्सर यूजर फोन खरीदते समय ये बात तो जरूर पूछता है कि इसमें रैम कितनी है। लेकिन अधिकांश लोगों को ये नहीं पता होता है कि फोन में रैम की क्या भूमिका होती है। कम्प्यूटर की तरह स्मार्टफोन की स्पीड भी रैम की क्षमता पर निर्भर करती है। रैम का काम रन टाइम में मेमोरी को स्टोर करना है, जो डिवाइस के बंद होते ही क्लियर हो जाती है। चूंकि हमारा फोन अक्सर ऑन रहता है इसीलिए जरूरी है कि हम इसे समय-समय पर क्लियर करते रहें. इससे आपका फोन हैंग होने और गर्म होने से बच सकता है।
जरूरी ऐप को दें फोन में जगह जब तक आपका स्मार्टफोन ऑन रहता है, तब तक उसका प्रोसेसर एक्टिव रहता है। बहुत सारे ऐप ऐसे है जो फोन ऑन रहने पर हमेशा चलते रहते हैं चाहे आप उन्हें यूज कर रहे हैं या नहीं. ऐप के एक्टिव होने की वजह से इसका असर आपके स्मार्टफोन पर पड़ता है। रैम में ज्यादा ऐप्लिकेशन होने की वजह से प्रोसेसिंग स्पीड स्लो हो जाती है और आपका फोन धीरे-धीरे हैंग होने लगता है। हमेशा चार्जर में ना लगाएं अपना फोन आम इंसान की तरह फोन की बैटरी को भी भूख लगने पर ही खाने की जरूरत होती है। इसीलिए जरूरी है कि हम अपने स्मार्टफोन की बैटरी के डॉउन होने का इंतजार करें. जब तक उसकी क्षमता 10 फीसदी या उससे नीचे नहीं चली जाए तब तक आप उसे चार्ज में नहीं लगाएं. जिस तरह से पेट भरे होने के बावजूद खाना खाने से उल्टी की नौबत आ जाती है। उसी तरह चार्ज बैटरी को चार्ज करने पर वो गर्म हो जाती है।
पावर सेविंग मोड फीचर का इस्तेमाल करें आजकल हर स्मार्टफोन को पावर सेविंग मोड फीचर से लैस किया जा रहा है, जिसका उपयोग अधिकांश लोग नहीं करते हैं। इस मोड में जरूरी ऐप ही एक्टिव रह पाते हैं। जिस वजह से आपका फोन हैंग होने से बचता है। पावर सेविंग मोड में बैटरी की क्षमता में भी इजाफा होता है। दिन में कम से कम आधे घंटे के लिए फोन को ऑफ रखें रात को सोते समय या किसी भी समय कम से कम आधे घंटे के लिए अपने स्मार्टफोन को ऑफ कर दें, जिससे फोन के प्रोसेसर, रैम और बैटरी स्लीप मोड में चले जाएं। इसका फायदा यह होगा कि आपके फोन की प्रोसेसिंग स्पीड कभी कम नहीं होगी और आप लंबे समय के लिए टेक्नीशियन से दूर रहेंगे।

Comments           Comment
     
   

स्थानीय समाचार


  1. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो...
  2. नेतन्याहू ने पत्नी के साथ किया ताजम...
  3. उम्‍मीद है, मेरे आंदोलन से अब कोई '...